आखिर क्यों नवजोत सिंह सिद्धू ने राहुल को कहा कप्तान

बिहार अपडेट: अपनी पाकिस्तान यात्रा पर कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने दिया बड़ा बयान. सिद्धू ने कहा, ‘मेरे कप्तान राहुल गांधी हैं, उन्होंने ही भेजा है हर जगह.’ और राहुल गांधी ने ही मुझे पाकिस्तान भेजा था.

पंजाब के सीएम मेरे पिता के समान हैं और कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मुझे पाकिस्तान जाने से मना किया था. लेकिन करीब 20 कांग्रेसी नेताओं और केंद्रीय नेतृत्व के कहने पर मैं पाकिस्तान गया था. मैं पहले ही बता चुका था कि मैं पाकिस्तान जाऊंगा. मेरे और सीएम साहब के कप्तान राहुल गांधी हैं.

siddhu with Punjab cm
हैदराबाद में कांग्रेस के लिए प्रचार करने पहुंचे सिद्धू ने कहा कि जब मैं पाकिस्तान गया था तब लोगों ने मेरा मजाक बनाया था. अव वही लोग अपने बयान से यूटर्न ले रहे हैं. तेलंगाना के सीएम के. चंद्रशेखर राव की तुलना गिरगिट से करते हुए सिद्धू ने कहा कि चंद्रशेखर राव ने सोनिया जी को धोखा दिया है. वह अपने 300 करोड़ के बंगले में रहते हैं. सचिवालय नहीं जाते हैं. हम राहुल गांधी के सिपाही हैं, मेरा नारा है कि बुरे दिन जाने वाले हैं और राहुल गांधी आने वाले हैं. लाल किला पर झंडा फहराने वाले हैं, कोई रोक सके तो तो रोको.

न्यूज एजेंसी से बात करते हुए सिद्धू ने कहा कि हर रोज करीब 10 हजार लोग मेरे साथ सेल्फी लेते हैं, ऐसे में मैं किसी चावला या चीमा को नहीं जानता हूं. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के बयान पर उन्होंने कहा कि मैं बल्लेबाज हूं और गुगली खेलना जानता हूं.

siddhu in Pakistan with Imran khan

बता दें, करतारपुर कॉरिडोर को लेकर पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की अब तक वाह-वाही हो रही थी. लेकिन गुरुवार को खालिस्तानी आतंकी और हाफिज सईद के करीबी गोपाल सिंह चावला ने सिद्धू के साथ खुद की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट की. इसके बाद सिद्धू की पाकिस्तान यात्रा विवादों में आ गई है.