बक्सर जेल ब्रेक मामला: अधीक्षक और उपाधीक्षक को किया गया निलंबित

पटना/बक्सर : बिहार के बक्सर में 31 दिसंबर, 1016 को बक्सर सेंट्रल जेल से पांच कैदियों के मामले में मिली जांच रिपोर्ट के बाद सोमवार को काराधीक्षक, संजय कुमार चौधरी और उपाधीक्षक सुदर्शन प्रसाद सिंह को निलंबित कर दिया गया है. जेल ब्रेक मामले से जुड़े अधिकारियों पर सरकार की ओर से 17 दिन बाद यह कार्रवाई की गयी है. कारा आईजी आनंद किशोर ने दोनों जेल अधिकारियों को निलंबित करते हुए उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई करने का आदेश दिया है. इस संबंध में गृह विभाग ने अधिसूचना जारी कर दिया है. दिलचस्प बात यह भी है कि कारा आईजी द्वारा निलंबित किये जाने के बाद बक्सर के काराधीक्षक संजय कुमार चौधरी को केंद्रीय कारा, मोतिहारी व उपाधीक्षक सुदर्शन प्रसाद सिंह को विशेष केंद्रीय कारा, भागलपुर में तैनात किया गया है.

गौरतलब है कि 31 दिसंबर की रात में सेंट्रल जेल से पांच कैदी फरार हो गये थे, जिसके बाद जेल आइजी के आदेश पर दो कक्षपाल समेत एक जमादार को निलंबित कर दिया गया था. जेल प्रशासन ने मामले की जांच के लिए दो सदस्यीय टीम बनायी थी. जांच टीम की रिपोर्ट के बाद दोनों को निलंबित करने का आदेश दिया गया है. जांच टीम में निदेशक प्रशासन -सह-संयुक्त सचिव राजीव कुमार वर्मा और उप महा निरीक्षक कारा शिवेंद्र प्रियदर्शी शामिल थे.